Jhunjhunu Update
झुंझुनू अपडेट - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

हरियाणा में झुंझुनूं की 40 गाड़ियों को एक साथ पकड़ा

अवैध रूप से लेकर जा रहे थे राजस्थान से हरियाणा में लकड़िया

सूरजगढ़, 24 नवंबर।
हाल ही में पायलट कैंप के तेज तर्रार और अनुभवी नेता हेमाराम चौधरी को प्रदेश का वन मंत्री बनाया गया है। लेकिन प्रदेश का वन विभाग किस लापरवाही से काम कर रहा है। इसका उदाहरण भी बुधवार को ही सामने आ गया। जब हरियाणा में सीएम फ्लाईंग ने राजस्थान की करीब 40 गाड़ियों को अवैध हरी लकड़ियों के साथ जब्त कर लिया। जी, हां झुंझुनूं का वन विभाग महीने में दो—चार गाड़ी जब्त खानापूर्ति कर वाहवाही लूटने में व्यस्त है। लेकिन हरियाणा के सीएम फ्लाईंग ने आज तड़के ही लोहारू के पास सिंघानी गांव में एक साथ 40 से अधिक गाड़ियों को अवैध हरी लकड़ियों के साथ जब्त किया है। इनमें पिकअप और ट्रेक्टर ट्रॉली शामिल है। जो अधिकतर राजस्थान के झुंझुनूं जिले की है। हरियाणा की सीएम फ्लाईंग टीम के इंसपेक्टर आजादसिंह ने बताया कि उनकी टीम ने अवैध रूप से राजस्थान से लाई जा रही लकड़ियों की गाड़ियों को करीब 40 पिकअप और कुछ ट्रैक्टर जब्त किए गए। मौके पर फॉरेस्ट विभाग के रेंज ऑफिसर को भी बुलाया गया और उन पर जुर्माना लगाने की कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि बार-बार शिकायतें मिली थी कि राजस्थान से हरे पेड़ों को काटकर सिंघानी ने गांव में लाकर बेचा जा रहा है। उस पर यह कार्रवाई की गई है। इस कार्रवाई में ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किया गया था। हम आपको बता दें कि सिंघानी गांव राजस्थान सीमा के नजदीक है और यहां पर काफी लंबे समय से हरी लकड़ियों का अवैध कारोबार होता है। राजस्थान से पिकअप गाड़ियों में भरकर हरे पेड़ों को सिंघानी गांव में बेचा जा रहा है और यह पर्यावरण के लिए खतरा है। इसकी सूचना के आधार पर सीएम फ्लाइंग ने छापामारी की तो इसमें करीब 40 गाड़ियों को जब्त किया गया है। अब इन गाड़ियों को सीज कर पर्यावरण कोर्ट का चालान किया जाएगा और सख्ती बरती जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy