Jhunjhunu Update
झुंझुनू अपडेट - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

पूर्व प्रधान गिरधारी खीचड़ गिरफ्तार, देर रात जमानत पर छोड़ा

दिनभर गोखरी गांव और मलसीसर थाने पर मौजूद रहा जाब्ता

मलसीसर। बुधवार को गोखरी गांव में प्रशासन गांवों के संग अभियान में कोई मामले निपटे या ना निपटे, पर विवाद जरूर खड़ा हो गया। जी, हां बुधवार को गांव में कैंप था। जिसके तहत गांव की स्कूल में कैंप किया जाना तय हुआ। लेकिन कैंप में आने वाले अधिकारी और कर्मचारी जब गोखरी गांव की स्कूल में पहुंचे तो वहां पर कोई व्यवस्था नहीं मिली। पूर्व प्रधान गिरधारी खीचड़ की मानें तो पंचायत समिति ने कोई व्यवस्था नहीं करवाई। वहीं मंडावा विधायक रीटा चौधरी की मानें तो पूर्व प्रधान गिरधारी खीचड़ ने वहां पर टैंट लगने नहीं दिया। यह तो जांच का विषय है। लेकिन आखिरकार कर्मचारियों और अधिकारियों को स्कूल के बरामदे में दरी बिछाकर बैठना पड़ा। कुछ अधिकारी और कर्मचारियों को जब स्कूल के बरामदे में जगह नहीं मिली तो वे स्कूल के कमरों में भी लाइन बनाकर बैठ गए। कैंप में पहुंचे पूर्व प्रधान गिरधारी खीचड़ और बीडीओ—वीडीओ के साथ व्यवस्थाओं को लेकर बहसबाजी हो गई। इसी दौरान पुलिस आई और गिरधारी खीचड़ और उसके साथ दो—तीन अन्य युवाओं को अपने साथ ले गई। बाद में पुलिस ने बताया कि बीडीओ और वीडीओ की शिकायत पर पूर्व प्रधान को शांतिभंग में गिरफ्तार किया गया है। वहीं पूर्व प्रधान के खिलाफ बीडीओ ने राजकार्य में बाधा डालने की रिपोर्ट भी दी है। गिरधारी खीचड़ की गिरफ्तारी के कुछ देर बाद कैंप में मंडावा विधायक रीटा चौधरी और अलसीसर प्रधान घासीराम पूनियां अपने समर्थकों के साथ पहुंचे। जहां पर मंडावा विधायक ने अपनी मौजूदगी में टैंट लगवाया और कैंप का आयोजन किया। काफी देर तक मंडावा विधायक गोखरी स्कूल में रही। इस दौरान सरपंच ललितादेवी के साथ भी मंडावा विधायक ने वार्ता की। पूरे कार्यक्रम के दौरान एसडीएम साधुराम जाट, डीएसपी आनंद राव, मलसीसर एसएचओ गोपालसिंह थालौर समेत अन्य पुलिस जाब्ता मौजूद थे। देर शाम को पूर्व प्रधान को जमानत पर छोड़ दिया गया। जिसके बाद भाजपा कार्यकर्ता जुलूस के रूप में गिरधारी खीचड़ के साथ उनके गांव भूदा का बास गए।
बॉक्स….
अंदर कैंप चलता रहा, बाहर नारेबाजी होती रही, काले झंडे भी दिखाए
गोखरी स्कूल में मंडावा विधायक रीटा चौधरी के पहुंचने के बाद कैंप की सारी व्यवस्थाएं तुरत फुरत की गई। इसी दौरान सबसे पहले विरोध करने के लिए भाजपा नेता कृष्ण कुमार जानूं के नेतृत्व में नगर परिषद के पूर्व पार्षद कुलदीप पूनियां समेत अन्य समर्थक कैंप स्थल नारेबाजी करते हुए पहुंचे। भाजपा नेता—कार्यकर्ताओं ने पूर्व प्रधान की गिरफ्तारी का कारण पूछा और काफी देर तक दोनों पक्षों में तकरार हुई। लेकिन बाद में भाजपा कार्यकर्ता बाहर ही धरने पर बैठकर नारेबाजी करते रहे। वहीं अंदर कैंप का आयोजन चलता रहा। जब मंडावा विधायक कैंप से वापिस जाने लगी तो कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारे लगाए और काले झंडे भी दिखाए। बाद में मौके पर भाजपा नेता विश्वंभर पूनियां, पूर्व प्रधान सुशीला सीगड़ा, डॉ. राजेश बाबल, भाजपा जिला उपाध्यक्ष, इंजी. प्यारेलाल ढूकिया, सांसद पुत्र अतुल खीचड़ आदि भी पहुंच गए। जिन्होंने भी गिरफ्तारी की निंदा करते हुए इसे मंडावा विधायक की तानाशाही बताई।
बॉक्स…
तीन रिपोर्ट पहुंची थाने में
गोखरी में हुए मामले को लेकर पुलिस थाने में तीन पक्षों की रिपोर्ट दी गई है। बीडीओ ने पूर्व प्रधान और उनके साथियों के साथ राजकार्य में बाधा डालने की रिपोर्ट दी है। तो पूर्व प्रधान के साले रविंद्र निवासी बहल ने भी थाने में रिपोर्ट दी है कि वह अपने जीजा से मिलने आया था। जब थाने पहुंचा तो महिला कांस्टेबल सुनिता ने उसके साथ अभद्रता की। मोबाइल छीना, थप्पड़ मारा। वहीं सरपंच ललितादेवी ने भी बीडीओ व अन्य के खिलाफ उनके साथ अभद्रता करने की रिपोर्ट थाने में दी है।
बॉक्स…
एक—दूसरे पर लगा रहे है व्यवस्थाओं का आरोप
मंडावा विधायक रीटा चौधरी ने आरोप लगाया है कि पहले तो जो टैंट लगाया गया। उसे उखाड़ दिया और कुर्सी—टेबल फेंक दी। इसके बाद एक अन्य टैंट वाले को टैंट ना लगाने की धमकी दी। वहीं पूर्व प्रधान गिरधारी खीचड़ ने कहा कि कोई भी टैंट आदि की व्यवस्था ना करने पर उन्होंने बीडीओ से पूछा तो वो उलझने लगे। पूर्व प्रधान ने कहा कि कोई व्यवस्था नहीं करवाई तो दरियां भी उन्होंने ही मंगवाई।
बॉक्स…
रीटा बोली, विधायक कोटे से भी लगा है पैसा
पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए विधायक रीटा चौधरी ने कहा कि गोखरी गांव में एक भी पैसा ना लगाने का आरोप गलत है। उन्होंने ना केवल विधायक कोटे से गांव के विकास के लिए पैसा दिया है। बल्कि स्कूल में ओपन जिम का सामान भी आ चुका है। लेकिन टिल्लू, पूर्व प्रधान और सरपंच काम नहीं होने देना चाहते। वे चाहते है कि गांव के कुछ लोगों का काम हो। बाकि उनके पीछे पीछे घूमे। इसलिए काम नहीं हो रहा। वैसे भी पंचायत में केंद्र से, जिला परिषद से और पंचायत समिति से सीधा पैसा आता है। उसमें भी काम करवाया जा सकता है।
बॉक्स…
दरी पर बैठे मिले अधिकारी—कर्मचारी, रीटा बोली मुझे तो टीचर वाली फिलिंग आ रही है
मंडावा विधायक रीटा चौधरी जब कैंप स्थल में पहुंची। तो वहां पर दरी पर अधिकारी और कर्मचारी बैठे मिले। कुछ अधिकारी और कर्मचारी स्कूल के बरामदे में बैठे थे। तो कुछ अधिकारी और कर्मचारी एक क्लासरूम में छात्रों की तरह बैठे थे। रीटा चौधरी ने आते ही सभी से मुलाकात की। इसके बाद वे क्लासरूम गई तो उन्होंने कहा कि उन्हें तो टीचर जैसी फिलिंग आ रही है। अब क्या पढाउ ए से एपल क्या। तो अधिकारी और कर्मचारी भी मजाकिया लहजे में बोल उठे मैडम ये तो हमें भी आता है। जिसके बाद ठहाके भी खूब लगे।
इनका कहना है…
बीडीओ और वीडीओ की शिकायत पर पहुंचे थे। जहां पर कैंप में झगड़ा करने पर पूर्व प्रधान गिरधारीलाल और एक—दो अन्य को शांतिभंग में गिरफ्तार किया गया है। इधर, इनके खिलाफ राजकार्य में भी बाधा डालने की रिपोर्ट मिली है। जिसकी जांच की जा रही है। जांच में जो भी सामने आएगा। उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।
— गोपालसिंह, एसएचओ, मलसीसर

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy