Jhunjhunu Update
झुंझुनू अपडेट - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

पार्षद अनूप भगेरिया से रंगदारी मामले में नीरज कांकरोली गिरफ्तार

चिड़ावा पुलिस भिवानी जेल से लाई प्रोडक्शन वारंट पर, होगी पूछताछ, खुल सकते है कई राज

चिड़ावा। नगरपालिका के भाजपा पार्षद एवं भाजपा के पूर्व शहर अध्यक्ष अनूप भगेरिया से 50 लाख रूपए की रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को बड़ी अहम और मामले की दूसरी गिरफ्तारी की है। सीआई भगवानसहाय मीणा ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने हरियाणाके चरखी दादरी इलाके के कांकरोली गांव के रहने वाले नीरज कांकरोली को गिरफ्तार है। नीरज कांकरोली बाढ़डा में हुई एक हत्या के मामले में फरार था। इसी फरारी के दौरान उसने चिड़ावा नगरपालिका के पार्षद भाजपा नेता अनूप भगेरिया से रंगदारी मंगवाई थी। साथ ही उसके घर के बाहर फायरिंग करने का भी प्लान बनाया था। पुलिस की अब तक की जांच में सामने आया है कि हरियाणा के कैथल जिले के तितरम कस्बे का रहने वाला लखविंद्र उर्फ लक्खा उर्फ लक्की पिछले करीब दो साल से पुर्तगाल में नौकरी कर रहा है। जो पहले संपत नेहरा और लॉरेंस विश्नोई गैंग से जुड़ा हुआ था। संपत नेहरा ने अपने साथी नीरज कांकरोली का संपर्क लखविंद्र से कराया। इसके बाद नीरज कांकरोली के कहने पर लखविंद्र ने चिड़ावा नगरपालिका के पार्षद अनूप भगेरिया को पुर्तगाल के नंबरों से ही व्हाट्स एप कॉल किया और उससे 50 लाख रूपए की रंगदारी मांगी। इस दौरान उसने एक बाद तिहाड़ जेल में बंद संपत नेहरा से भी कॉल कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करवाई और अनूप भगेरिया से 50 लाख रूपए मांगे। इस मामले की एफआईआर दर्ज होनेक े बाद जब पुलिस जांच कर रही थी तो इसी दरमियान चूरू की राजगढ़ पुलिस के हत्थे मोहित उर्फ सोनू जाट निवासी ईशरवाल हरियाणा को आर्म्स एक्ट के मामले में गिरफ्तार किया। जिसने पूछताछ में बताया कि उसे नीरज कांकरोली ने पार्षद अनूप भगेरिया के घर पर फायरिंग करने के लिए भी कहा था। लेकिन उससे पहले ही भगेरिया के घर पर पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था सख्त होने के कारण वह फायरिंग नहीं कर पाया। पुलिस ने इस मामले में मोहित को पूर्व में गिरफ्तार किया। वहीं शुक्रवार को इस मामले में सूत्रधार नीरज कांकरोली को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। जिसे शुक्रवार को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया है। ताकि आगे की पूछताछ की जा सके।
अभी कड़ी से कड़ी जुड़नी शेष
इस मामले में अनूप भगेरिया ने दो लोगों अमित श्योराण और रिंकू सोनी के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कराया था। लेकिन पुलिस ने अभी तक दोनों से केवल पूछताछ की है। नीरज कांकरोली के गिरफ्त में आने के बाद अब इन दोनों की मामले में भूमिका तय होने के साथ-साथ इस मामले में और कौन कौन शामिल है। वो भी सामने आना बाकि है। इसके अलावा संपत नेहरा का इस मामले में कितना लेना देना है। वो भी पुलिस जांच का विषय है। इसके अलावा पुलिस पुर्तगाल में रह रहे रंगदारी मांगने वाले आरोपी लखविंद्र उर्फ लक्खा को लाने के लिए भी जोर लगाना पड़ेगा। जिससे भी काफी राज उगले जाने शेष है।
अभी भी लगे है भगेरिया निवास पर बेरिकेट्स
मामले के बाद पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के तहत पुलिस जाब्ता भगेरिया के घर के बाहर लगा दिया था और फायरिंग की जानकारी मिलने के बाद बेरिकेट्स लगाकर घर के सामने से आवाजाही रोक दी थी। लेकिन कुछ दिनों बाद पुलिस जाब्ता तो हटा लिया गया। लेकिन एक पुलिसकर्मी और बेरिकेट्स अभी तक नहीं हटाए गए है। क्योंकि अभी तक मामले के सभी आरोपी पुलिस गिरफ्त में नहीं आए है। इसलिए हर वक्त हमले का डर बना हुआ है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy